समर्थक

शनिवार, 24 अक्तूबर 2009

साहसी पर्वतारोही को सहायता चाहिए...


राजस्थान के महान पर्वतारोही मगन बिस्सा ,जिन्होंने तीन बार एवरेस्ट पर विजय पाई है!१९८४ में पहली बार उन्होंने बछेंद्री पाल के साथ एवरेस्ट पर तिरंगा फहराया था !इसके लिए उन्हें सेना मैडल भी दिया गया!किंतु आज ये पर्वतारोही अस्पताल में जिंदगी की ज़ंग लड़ रहा है !पिछली मई में चौथी बार एवरेस्ट जीतने की धुन में ये घायल हो गए थे ,तभी से अस्पताल के आई सी यूं में अकेले ही मौत से लड़ रहें है!अभी तक राज्य और केन्द्र सरकार ने इनकी कोई .सुध नहीं ली है!किसी भी नेता को इनसे मिलने समय नहीं है !ऐसी विकट घड़ी में इनके कुछ .मित्रों और शुभचिंतकों ने सहायता का बीडा उठाया है !इन्होने उनकी सहायता हेतु एक वेबसाईट बनाई है जिस पर सारा विवरण उपलब्ध है !इस वेबसाईट पर जाने हेतु यहाँ क्लिक करें...!अपने साहसिक कारनामो से देश का नाम ऊँचा करने वाले पर्वतारोही हेतु हम सभी ब्लोगेर साथियों को भी अपना योगदान देना चाहिए!मगन बिस्सा राजस्थान एडवेंचर फाउन्देशन के अध्यक्ष और नेशनल ..फाउन्देशन .एडवेंचर के निदेशक .भी है....
एक टिप्पणी भेजें